Related Posts with Thumbnails

शुक्रवार, 16 अक्तूबर 2009

दीप पर्व की शुभकामनाएं



जिनके    घर  में   अँधियारा है
उनको  भी    उजियारा     बाँटें
 
कदम-कदम पर दुःख के पर्वत
आओ   उनको   मिल कर काटें
 
जीवन का  है  लक्ष्य  यही  हम
हर    होठों    पर    लायें  लाली
 
हर   चेहरा   मुस्कान   भरा  हो
हर    आँगन    नाचे   खुशहाली
 
मित्रों मिल जुल कर सब मनाएं
समझो   तब     सच्ची   दीवाली
 
 
"आपको दीपावली की शुभकामनायें" 
 

7 टिप्पणियाँ:

पी.सी.गोदियाल 16 अक्तूबर 2009 को 6:22 pm  

ढेरो शुभ कामनाओं सहित आपको भी !

राकेश खंडेलवाल 16 अक्तूबर 2009 को 6:37 pm  

जो चषक हाथ धन्वन्तरि के थमा, नीर उसका सदा आप पाते रहें
शारदा के करों में जो वीणा बजी, तान उसकी सदा गुनगुनाते रहें
क्षीर के सिन्धु में रक्त शतदल कमल पर विराजी हुई विष्णु की जो प्रिया
के करों से बिखरते हुए गीत का आप आशीष हर रोज पाते रहें

राकेश

Udan Tashtari 16 अक्तूबर 2009 को 9:36 pm  

सुन्दर रचना!

सुख औ’ समृद्धि आपके अंगना झिलमिलाएँ,
दीपक अमन के चारों दिशाओं में जगमगाएँ
खुशियाँ आपके द्वार पर आकर खुशी मनाएँ..
दीपावली पर्व की आपको ढेरों मंगलकामनाएँ!

-समीर लाल ’समीर’

महेन्द्र मिश्र 16 अक्तूबर 2009 को 10:05 pm  

दिवाली की हार्दिक ढेरो शुभकामनाओ के साथ, आपका भविष्य उज्जवल और प्रकाशमान हो .

संजीव तिवारी .. Sanjeeva Tiwari 16 अक्तूबर 2009 को 11:03 pm  

आपको भी दीपावली की हार्दिक शुभकामनांए.

संगीता पुरी 17 अक्तूबर 2009 को 12:36 am  

अच्‍छे विचार !!
पल पल सुनहरे फूल खिले , कभी न हो कांटों का सामना !
जिंदगी आपकी खुशियों से भरी रहे , दीपावली पर हमारी यही शुभकामना !!

ललित शर्मा 17 अक्तूबर 2009 को 8:29 am  

आपको दीप पर्व की शुभकामनाएं

समर्थक

  © Blogger templates The Professional Template by Ourblogtemplates.com 2008

Back to TOP